Computer kya hai 2021 || कंप्यूटर का इतिहास और जनरेशन

Computer kya hai 2021
Computer kya hai 2021


हेलो दोस्तों आपका बहुत-बहुत स्वागत है हमारे इस ब्लॉग में दोस्तों आज के इस post में हम आपको बताने वाले हैं Computer kya hai 2021 कंप्यूटर की हिस्ट्री और कंप्यूटर के बारे में और भी चीजें हम इस postमें बताएंगे तो दोस्तों आप भी जानना चाहते हैं कंप्यूटर क्या होता है और कंप्यूटर के बारे में तो इस postको पूरा पड़ेगा तभी आपको समझ आएगा दोस्तों इस postमें हम आपको अच्छे से बताने की  कोशिश करेंगे तो दोस्तों आप इस postको पूरा पड़ेगा तभी आपको समझ आएगा  तो दोस्तों बिना देरी किए शुरू करते हैं आज की पोस्ट



Computer kya hai 2021

दोस्तों कंप्यूटर एक इलेक्ट्रॉनिकdevice  है जोकि किसी वस्तु या विषय के बारे में डाटा को इनपुट के रूप में लेता है और जरूरी ऑपरेशन कर एक नियत आउटपुट प्रदान करता है या यूं कहें तो कंप्यूटर एक ऐसी मशीन है जो हमारे काम को आसान कर देती है जैसे कैलकुलेशन करना कोई फाइल बनाना कंप्यूटर के माध्यम से हम हमारे काम को बड़ी ही आसानी से कम समय में पूरा कर सकते हैं|



कंप्यूटर का इतिहास क्या है

कंप्यूटर पहले गणना करने के लिए प्रयोग में लाई जाने वालीdevice ों में यह एक मैकेनिकलdevice  थी सबसे पहला कंप्यूटर अबैकस को कहा जाता है बाद में पास्कल ,लॉरेस ,जैकब आदि ने कईdevice  से बनाई लेकिन किसी भीdevice  में मेमोरी नहीं थी तत्पश्चात 70 वीं शताब्दी में चार्ल्स बैबेज ने एनालिटिकल और डिफरेंस मशीन का आविष्कार किया

जिसमें उसने मेमोरी डाली बाद में आज की सभी कंप्यूटर में मेमोरी की सबसे बड़ी विशेषता है इसी के कारण चार्ल्स बैबेज को कंप्यूटर का पिता कहा जाता है दोस्तों आपके मन में सवाल ही आ रहा था कि सबसे पहले जो कंप्यूटर था वह मैकेनिकलdevice  इस तरह की तो जो सबसे पहले जो इलेक्ट्रॉनिक कंप्यूटर था उसका क्या नाम था तो सबसे पहला इलेक्ट्रॉनिक कंप्यूटर है उसका नाम एनिअक था यहीं से इलेक्ट्रॉनिक कंप्यूटर का युग शुरू हुआ



 कंप्यूटर की जनरेशन क्या है


 पहली जनरेशन 

 दोस्तों सबसे पहली जनरेशन है वह 1945 से लेकर 1954 तक इस जनरेशन में CTR  का उपयोग किया गया था जिसमें कंप्यूटर को साकार कर दिया और गणना करना भी संभव कर दिया था


दूसरी जनरेशन 

 दोस्तों दूसरी जनरेशन 1955 से लेकर 1964 तक इस जनरेशन में ट्रांजिस्टर टेक्नोलॉजी का उपयोग किया गया और इस टेक्नोलॉजी ने कंप्यूटर के आकार को थोड़ा छोटा भी कर दिया और साथ ही साथ

 तेज भी कर दिया था


 तीसरी जनरेशन

1965 से लेकर 1974 तक इस जनरेशन में इंटीग्रेटेड सर्किट यानी कि आई सी टेक्नोलॉजी का कंप्यूटर में उपयोग किया गया जिसको भरोसेमंद और तेज समझा गया



 चौथी जनरेशन

कंप्यूटर की चौथी जनरेशन 1975 से अभी तक  में माइक्रोप्रोसेसर टेक्नोलॉजी का उपयोग किया गया जोकि पहली जनरेशन दूसरी जनरेशन और तीसरी जनरेशन से काफी तेज और साइज में छोटा पाया गया जिसको आसानी से कहीं भी ले जा सकते है |


पांचवी जनरेशन

कंप्यूटर की पांचवी जनरेशन में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का उपयोग किया गया जो कि कंप्यूटर टेक्नोलॉजी में सर्वोपरि सिद्ध हुआ इस टेक्नोलॉजी में कंप्यूटर अपने खुद का आईक्यू का इस्तेमाल करता है




Characteristics  of computer 


 स्पीड

 कंप्यूटर एक बहुत ही तेज कार्य करने वाला इलेक्ट्रॉनिकdevice  है जोकि यूजर के निर्देश को पल भर में कोशिश कर देता है यही नहीं किसी कार्य को सेकंड में कर देता है जबकि कोई व्यक्ति एक काम को करने में कई घंटे लगाता है वही कंप्यूटर कुछ ही समय में वह कार्य बड़ी ही तेजी से कम समय में कर देता है


एक्यूरेसी

 कंप्यूटर  कि अगर एक्यूरेसी की बात की जाए तो यह बिना कोई गलती की है पूरा सही गणना कर सकता है जिसमें एक कभी कोई भी गलती नहीं करता सभी गणनाए  तथा कार्य  उसी एक्यूरेसी की तरह कार्य करता है कंप्यूटर में गलती तभी होगी जब कोई यूजर उसमें गलत डाटा को इनपुट करेगा


 डिलिजेंस

 कंप्यूटर किसी भी कार्य को बिना था कि लगातार कर सकता है और  इसमें कोई भी कमजोरी या कोई भी थकावट कंप्यूटर को नहीं आती है वह बिना रुके किसी भी काम को लगातार बिना गलती किए कर सकता है


 स्टोरेज कैपेसिटी
स्टोरेज कैपेसिटी अगर बात करें तो कंप्यूटर में किसी प्रकार के डाटा को या इंफॉर्मेशन को इसकी मेमोरी में स्टोर कर सकते हैं कंप्यूटर में स्टोर होते हैं अधिक मात्रा में डाटा और सूचनाओं को सुरक्षित रखते हैं जैसे कि हार्ड डिक्स फ्लॉपी डिस्क ऑप्टिकल डिस्क आदि जिनकी मदद से हम कोई भी डाटा को किसी एक स्थान से दूसरे स्थान तक ले जा सकते हैं और उसमें भी रख सकते हैं 



कंप्यूटर को मेंटेनेंस कैसे रखें

दोस्तों अगर हमारे पास भी कंप्यूटर है और हम चाहते हैं कि हमारा जो कंप्यूटर है उसमें किसी भी प्रकार की कोई भी परेशानी नहीं हो कोई भी खराबी नहीं हो तो वह कौन सी टिप्स अपनाएंगे जिनसे कि हमारे कंप्यूटर को कोई भी हनी नहीं हो डाटा लॉस नहीं हो  तो आइए जाने में कौन-कौन सी टिप्स है


1-
आपको हमेशा कंप्यूटर को बैनर में इस्तेमाल करना है उसमें बिना वजह कोई भी छेड़छाड़ नहीं करनी है अगर आप कंप्यूटर का उपयोग नहीं कर रहे हैं तो उसे शटडाउन कर दें बिना वजह उसे ऑन नहीं रखें

2 -
दोस्तों कई बार ऐसा होता है कि बहुत से लोग कंप्यूटर को शटडाउन किए बिना ही डायरेक्ट स्विच ऑफ कर देते हैं तो ऐसा नहीं करना है कंप्यूटर को हमेशा प्रॉपर शट डाउन करना है अगर आप कंप्यूटर को डायरेक्टली बंद कर देते हैं तो इससे कंप्यूटर करप्ट होने का खतरा रहता है

3-
कंप्यूटर को अगर सिक्योर रखना है या कंप्यूटर में कोई भी फाइल पड़ी है तो अपने कंप्यूटर में मजबूत पासपोर्ट सेट करें जिसे ही कोई अन्य व्यक्ति आपके डाटा को नहीं देख सके और ना ही उसके साथ कोई छेड़छाड़ कर सके

4-समय-समय पर अपने कंप्यूटर के डाटा को बैकअप लेते रहें जिससे कि आप के जरूरी डेटा कभी 
भी लॉस होने का खतरा नहीं रहे



5-
अपने कंप्यूटर के ऑपरेटिंग सिस्टम और जो एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर होते हैं उनको टाइम भी 
टाइम अपडेट करते रहें ताकि वह प्रॉपर तरीके से कार्य करें


6-
अपने कंप्यूटर को समय-समय पर साफ करें इसमें किसी प्रकार की कोई भी धूल नहीं जमने दें 
जिससे कि आपके कंप्यूटर की परफॉर्मेंस कोई असर पड़े आइए जानें कंप्यूटर की इनपुटdevice  के बारे में

 

माउस

सबसे पहले बात करते हैं कंप्यूटर माउस की दोस्तों कंप्यूटर माउस एक प्रकार की पेंटिंगdevice  है जिसका युग कंप्यूटरमें इनपुट देने के लिए किया जाता है और साथ ही साथ इसके देश डायग्राम आदि को ड्रॉ करने के लिए टेक्स्ट को सिलेक्ट करने और इंस्ट्रक्शन देने के लिए माउस का उपयोग किया जाता है माउस कई प्रकार के होते हैं जैसे मैकेनिकल माउस ऑप्टिकल माउस आदि

 

कीबोर्ड

दोस्तों कीबोर्ड भी माउस की तरह इनपुटdevice  है इसके द्वारा आप कंप्यूटर में डाटा को इंटर कर सकते हैं कंप्यूटर मेंजो कीबोर्ड होता है वह टाइपराइटर होता है जिसमें बहुत सारे बटन होते हैं जिनका अलग अलग होता है जब भी हम किसी भी को दबाते हैं तो इलेक्ट्रॉनिक सिग्नल को उत्पन्न करता है जो कीबोर्ड के इनकोडर नाम के इलेक्ट्रॉनिक सर्किट द्वारा डिटेक्ट किया जाता है

 

स्कैनर

दोस्तों इस विनर भी एक तरह की इनपुटdevice  है जोकि हार्ड कॉपी या किसी फोटोग्राफ को स्कैन करने के लिए या डिजिटल फॉर्म में कन्वर्ट करने के लिए इसdevice  का यूज किया जाता है

 

ट्रैकबॉल

201 बोल भी एक तरह की इनपुटdevice  है ट्रैकबॉल भी माउस की तरह ही है लेकिन इसमें जो ऊपर का भाग होता हैवहां पर एक बोल होती है जैसे हम मैकेनिकल माउस में एक बोल नीचे की तरफ देखते हैं ठीक उसी तरह

 

लाइट पेन

लाइट पेन भी एक तरह की इनपुटdevice  है जो कि कंप्यूटर सिस्टम की स्क्रीन में इनपुट देने का कार्य करते हैं

 

 

कंप्यूटर के output device के बारे में

 

मॉनिटर

दोस्तों मॉनिटर एक तरह की output device है जिस पर कंप्यूटर के आउटपुट को देखा जा सकता है

 

प्रिंटर

200 पेंटर के बारे में तो आपने सुना ही होगा पर भी एक तरह की output device  है जो कंप्यूटर से डाटा को एक हार्ड कॉपी के रूप में पेंट करता है

 

प्लॉटर

दोस्तों की तरह ही एक output device  है जोकि कोई आर्किटेक्चर ड्रॉइंग या मैप को प्रिंट करने का कार्य करता है

 

 

 

यह भी जाने - output device क्या है

 

 

निष्कर्ष

दोस्तों आज की यह post आपको कैसी लगी हमें नीचे comment करके जरूर बताएं इस post में आपने यह जाना कि Computer kya hai 2021 कंप्यूटर का इतिहास कंप्यूटर का मेंटेनेंस कैसे करेऔर कंप्यूटर से जुड़े कुछइनपुट और output device  के बारे में इस post में आप ने अवलोकन किया हमें आशा है कि आपको हमारे द्वारा लिखा गया लेख काफी पसंद आया होगा हमें नीचे comment करके जरूर बताएं और post अच्छी लगी हो तो अपने दोस्तों के साथ शेयर करना नहीं भूले हमारी post को पूरा करने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद

 




Post a Comment

0 Comments